यह हसीना बनी डॉन पर लोगों को नहीं आई पसंद

अपूर्व लाखिया ने अब अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर की जिंदगी पर आधारित फिल्म का निर्माण किया है. फिल्म में हसीना पारकर (श्रद्धा कपूर) के ऊपर कई केस के तहत सुनवाई हो रही है. वक़ील (प्रियंका सेतिया) के पूछे जाने पर हसीना पारकर अपने पिता (दधि पांडे), भाई दाऊद (सिद्धांत कपूर) और हसबैंड (अंकुर भाटिया) के बारे में कई बातें बताती है. इसी दौरान बाबरी मस्जिद, हिंदू मुस्लिम दंगे, मुंम्बई ब्लास्ट जैसी कई घटनाओं का ज़िक्र होता है. पारिवारिक मुद्दों के साथ ही अहम बातों की तरफ ध्यान आकर्षित किया जाता है. फिल्म को अंजाम क्या मिलता है इसका पता आपको फिल्म देखकर ही चलेगा.

फिल्म की कहानी और खास तौर पर स्क्रीनप्ले काफी कमजोर है जिसकी वजह से एक वक़्त के बाद काफी बोरियत होने लगती है.फिल्म की कास्टिंग भी काफी कमजोर है, जहां एक तरफ श्रद्धा कपूर कहीं ठीक लगती हैं तो कहीं किरदार के साथ न्याय नहीं कर पाती हैं. सिद्धांत कपूर के रूप में हमने सबसे कमजोर अंडरवर्ल्ड डॉन देखा है, उस पर ज़्यादा मेहनत की जाती तो फिल्म और बेहतर लगती.

फिल्म का डायरेक्शन और बैकड्रॉप अच्छा है. अपूर्व लाखिया की शूटिंग स्टाइल काबिल ए तारीफ है और प्रेजेन्ट करने का ढंग कमाल का है. जिसके लिए आप फ़िल्म देख सकते है फ़िल्म ठीक- ठाक क़िस्म की है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *